Zomato

Zomato में 10 नए निवेशकों ने निवेश किया है। इसमें टाइगर ग्लोबल, कोरा, लक्जर, फिडेलिटी (एफएमआर), डी 1 कैपिटल, बैली, गिफॉर्ड, मिराए और स्टीडव्यू इत्यादि शामिल हैं।

  • हमारी इस वेबसाइट Indiansbit में आपका स्वागत है।

ऑफलाइन खाना बनाने की सुविधा देने वाली कंपनी Zomato ने पूंजीगत के हालिया दौर में 66 करोड़ डॉलर (4,850 करोड़ रुपये) जुटाए हैं। कंपनी के संस्थापक और मुख्य कार्याधिकारी दीपिंदर गोयल ने ट्वीट कर शुक्रवार को कहा कि 3.9 अरब डॉलर के बाजार मूल्यांकन के आधार पर कंपनी ने वैश्विक निवेशों से यह पूंजी जुटाई है।

इस दौरान 10 नए निवेशकों ने भी कंपनी में निवेश किया है। इसमें टाइगर ग्लोबल, कोरा, लक्जर, फिडेलिटी (एफएमआर), डी 1 कैपिटल, बैली, गिफॉर्ड, मिराए और स्टीडव्यू इत्यादि शामिल हैं। इससे पहले इन्फो एज की कंपनी जोमाटो ने नवंबर में लक्जर, कोरा और स्टीडव्यू सहित छह निवेशकों से 19.5 करोड़ डॉलर यानी 1,455.4 करोड़ रुपये जुटाए थे। इस निवेश के हिसाब से जोमातो का मूल्यांकन 3.6 अरब डॉलर बैठता है।

इसके बाद जोमाटो में इन्फो एज (इन्फो एज) की हिस्सेदारी घटकर 20.8 प्रतिशत रह गई है। यह 19.5 करोड़ डॉलर में से छह करोड़ डॉलर लक्जर कैपिटल ग्रुप एलपी और पांच करोड़ डॉलर कोरा इन्वेस्टमेंट्स से जुटाई गई। मिराई एसेट ने जोमाटो में चार करोड़ डॉलर, स्टीडव्यू कैपिटल और बो वेव कैपिटल मैनेजमेंट ने दो-दो करोड़ डॉलर औरबली गिफर्ड और कंपनी ने 50 लाख डॉलर का निवेश किया है।

बता दें कि भारतीय बाजार में खाना डिलिवरी करने का काम को विभाजित -19 संकट से पूर्व की स्थिति में पहुंच गया है। जोमाटो के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डिपिंडर गोयल ने इस बात की पुष्टि की। गोयल ने खाना डिलिवरी करने के काम में आने वाले महीनों में 15 से 25 प्रतिशत मास पास मास वृद्धि की उम्मीद जताई। 23 मार्च 2020 से अब तक जोमाटो ने कुल 9.2 करोड़ रुपये की डिलीवरी की है। कंपनी के डिलीवरी एजेंटो से किसी के कोरोनावायरस प्रकार होने की कोई भी घटना सामने नहीं आयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here